Laptop_Image Source Amazon

Electronics Items_Image Source Amazon

Hostinger Banner

Kanpur Station Par Khane Ke Lekar Aapas Mai Bhid Gaye Mazdoor – कानपुर स्टेशन पर खाने को लेकर आपस में भिड़ गए मज़दूर

Laptop_Image Source Amazon

Electronics Items_Image Source Amazon

Hostinger Banner

Kanpur Station Par Khane Ke Lekar Aapas Mai Bhid Gaye Mazdoor – कानपुर स्टेशन पर खाने को लेकर आपस में भिड़ गए मज़दूर-प्रवासी मज़दूरों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए ट्रेन, बस चलायी जा रही है, रास्ते में खाने की भी व्यवस्था की जा रही है.

लेकिन कुछ वाक्य ऐसे सामने आ जाते हैं कि समझ आ जाता है कि इसके बावजूद भी यहाँ इनकी हालात कितने ख़राब हैं। ऐसा ही कुछ उत्तर प्रदेश  में कानपुर के रेलवे स्टेशन पर हुआ। यहां मज़दूर खाने को लेकर आपस में झगड़ पड़े।प्रवासी मज़दूरों को लेकर अहमदाबाद से बिहार जा रही ट्रेन कानपुर सेंट्रल स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर – 8 पर आकर रुकी .

Kanpur Station Par Khane Ke Lekar Aapas Mai Bhid Gaye Mazdoor – कानपुर स्टेशन पर खाने को लेकर आपस में भिड़ गए मज़दूर

ट्रेन रुकते ही रेलवे की तरफ से श्रमिकों को बांटे जाने वाले खाने की ट्रॉली भी कोचों के सामने लग गई। लेकिन ट्रॉली लगते ही दो कोचों के श्रमिक पहले खाना लेने के चक्कर में आपस में भिड़ गए।

कानपुर के रिपोर्टर ने बताया कि – लड़ाई इतनी ज़्यादा होने लगी कि ट्रॉली लेकर पहुंचे आईआरसीटीसी के कई कर्मचारी तो पीछे ही हट गए। खाने के कुछ पैकेट्स लोगों के हाथ लगे और बाकी खाना ज़मीन पर गिर गया।

इस मामले में कानपुर सेंट्रल के मुख्य अधिकारी हिमांशु शेखर का कहना है कि कोचों के सामने बाकायदा ट्रॉलियां लगा दी गई थीं। फिर भी मज़दूर आपस में लड़ पड़े। ट्रेन कानपुर स्टेशन पर पहुंचने से पहले एक घंटे से भी ज़्यादा समय आउटर पर खड़ी रही थी। तपती धूप में घंटों रहने के बाद ट्रेन में सवार लोग स्टेशन पहुंचे थे। इसीलिए सभी ज़्यादा उग्र हो गए।

Kanpur Station Par Khane Ke Lekar Aapas Mai Bhid Gaye Mazdoor – कानपुर स्टेशन पर खाने को लेकर आपस में भिड़ गए मज़दूर

रेलवे का कहना है कि 1 मई से रेलवे ने मजदूरों के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलायी। इसके तहत अभी तक 2600 ट्रेनों के जरिए करीब 35 लाख से ज्यादा लोगों को उनके घरों तक पहुंचाया गया। साथ ही कई राज्यों के अंदर भी ट्रेन चलाई गईं। इनसे 10 लाख लोगों ने यात्रा की. इस तरह अभी तक कुल 45 लाख मजदूरों को उनके घर ले जाया गया है।

आने वाले 10 दिनों के लिए भी हमारी तैयारियां तय हो चुकी है। इसके तहत 2600 ट्रेन चलाई जाएंगी और इनके जरिए 35 लाख लोगों को पहुंचाने की योजना है। इनके अलावा राज्यों के अंदर भी ट्रेन चलायी जाएंगी।

Shiv Aarti 5 Miraculous Secrets Of Lord Shiva

Capita India Update India’s Economy Fitch Estimates Towards Big Decline This Year Will Fall 10.5%

Ajmer Dargah Khwaja Garib Nawaz Is A Mainstay For Everyone-Amazing Facts

Good Afternoon Thought Cute Heartbreak Quotes To Make You Feel Better

Beauty Parlour At Home Making Yourself Beautiful And Sexy In Your Own Way

Laptop_Image Source Amazon

Electronics Items_Image Source Amazon

Hostinger Banner
%d bloggers like this: